Hindu Devi Devta

भगवान दत्तात्रेय (Lord Dattatreya)

भगवान दत्तात्रेय, महर्षि अत्रि और उनकी सहधर्मिणी अनुसूया के पुत्र थे। इनके पिता महर्षि अत्रि सप्तऋषियों में से एक है, और माता अनुसूया को सतीत्व के प्रतिमान के रूप में उदधृत किया जाता है। त्रिदेव (ब्रह्मा, विष्णु और महेश) की प्रचलित विचारधारा के विलय के लिए ही भगवान दत्तात्रेय ने जन्म लिया था, इसीलिए उन्हें …

भगवान दत्तात्रेय (Lord Dattatreya) Read More »

हनुमान (Hanuman)

Hanuman jayanti 2021: हनुमान, भगवान शिवजी के 11वें रुद्रावतार हैं। इनका अवतार भगवान राम की सहायता के लिये हुआ। हनुमान जी के पराक्रम की असंख्य गाथाएं प्रचलित हैं। इस धरा पर जिन सात मनीषियों को अमरत्व का वरदान प्राप्त है, उनमें बजरंगबली भी हैं। Hanuman Complete Info in Hindi नाम हनुमान अन्य नाम मारुति, पवन …

हनुमान (Hanuman) Read More »

नारद मुनि : परिचय, कथा, जयंती, पूजा विधि

नारद मुनि, हिन्दु शास्त्रों के अनुसार, ब्रह्मा के 7 मानस पुत्रो में से छठे है। उन्होने कठिन तपस्या से ब्रह्मर्षि पद प्राप्त किया था। वे भगवान विष्णु के अनन्य भक्तों में से एक माने जाते है। नारद मुनि / नारद ऋषि / देव ऋषि नारद नाम महर्षि नारद, नारद मुनि, देव ऋषि नारद जन्म / …

नारद मुनि : परिचय, कथा, जयंती, पूजा विधि Read More »

माँ बगलामुखी (महाविद्या-8)

माता बगलामुखी (Goddess Baglamukhi) दस महाविद्याओं में आठवीं महाविद्या हैं। इन्हें माता पीताम्बरा भी कहते हैं। ये स्तम्भन की देवी हैं। सम्पूर्ण सृष्टि में जो भी तरंग है वो इन्हीं की वजह से है। दस महाविद्याओं में सबसे अधिक प्रसिद्ध प्रचलित एवं प्रभावी साधना बगलामुखी देवी की है। बगलामुखी या पीताम्बरा देवी (महाविद्या-8) नाम बगलामुखी या पीतांबरा देवी मूल …

माँ बगलामुखी (महाविद्या-8) Read More »

तारा देवी (महाविद्या-2)

माँ तारा देवी (Goddess Tara), माँ भगवती का ही एक रूप है। ये दस महाविद्याओं में से द्वितीय महाविद्या हैं। ‘तारा’ का अर्थ है, ‘तारने वाली’। हिन्दू धर्म के अलावा देवी तारा को तिब्बती बौद्ध द्वारा भी पूजा जाता है। तारा देवी (महाविद्या-2) नाम तारा सम्बन्ध महाविद्या, दुर्गा पति शिव जन्म / जयंती चैत्र-शुक्ल नवमी अस्त्र तलवार, त्रिशूल मंत्र …

तारा देवी (महाविद्या-2) Read More »